Trulli Trulli Trulli Trulli Trulli

JALANDHAR -BJP द्वारा AAP के विधायकों द्वारा शहर की खराब की जा रही कानून व्यवस्था को लेकर किया प्रेस वार्ता का आयोजन

Trulli

JALANDHAR -BJP द्वारा AAP के विधायकों द्वारा शहर की खराब की जा रही कानून व्यवस्था को लेकर किया प्रेस वार्ता का आयोज

भारतीय जनता पार्टी जिला जालंधर के अध्यक्ष सुशील शर्मा की अध्यक्षता में स्थानीय पार्टी कार्यालय सर्कुलर रोड नजदीक शीतला माता मंदिर में आम आदमी पार्टी के जालंधर शहर के विधायकों द्वारा शहर की खराब की जा रही कानून व्यवस्था को लेकर एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य रुप से उपस्थित पूर्व कैबिनेट मंत्री मनोरंजन कालिया,जालंधर के पूर्व मेयर एवं भाजपा पंजाब प्रदेश के उपाध्यक्ष राकेश राठौर, पूर्व संसदीय सचिव कृष्णदेव भंडारी,प्रदेश प्रवक्ता महेंद्र भगत, सरबजीत सिंह मक्कड़,सरबजीत सिंह मक्कड़, पूर्व जिलाध्यक्ष रमन पब्बी, जिला महामंत्री भगवंत प्रभाकर, जिला उपाध्यक्ष दविंदर कालिया, जिला मीडिया इंचार्ज अमित भाटिया, बृजेश शर्मा, मंडल नंबर 10 के अध्यक्ष दविंदर भारद्वाज,उपस्थित थे। इस मौके पर मीडिया कर्मियों को संबोधित करते हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री मनोरंजन कालिया ने कहा रमन अरोड़ा, विधायक और नरेश डोगरा, डीसीपी, जालंधर के बीच समझौता स. गुरशरण सिंह संधू, पुलिस कमिश्नर, जालंधर द्वारा कराये जाने के साथ, जाहिर तौर पर खत्म हो गया लेकिन यह कई सवाल उठाता है। वायरल वीडियो आम आदमी पार्टी के विधायक रमन अरोड़ा को बेनकाब करते हैं कि उनके पास शिष्टाचार नहीं है कि अधिकारियों से कैसे बात करें। सार्वजनिक मामले को हल करते हुए,रमन अरोड़ा ने व्यक्तिगत मामला बनाया है और पुलिस अधिकारी से अभद्र और गंदी भाषा का इस्तेमाल किया है और बाद में स्थानीय अखबार के परिसर में पुलिस अधिकारी के साथ हाथापाई हुई । गौरतलब है कि चुनाव से पहले भी रमन अरोड़ा ने महिलाओं के खिलाफ भी अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया था।
मनोरंजन कालिया ने बताया कि 21-22 सितंबर की दरमियानी रात को हुई घटना के तुरंत बाद, आप विधायक शीतल अंगुराल के भाई राजन अंगुराल रमन अरोड़ा आप विधायक के समर्थन में आए और सिविल अस्पताल जालंधर में इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात डॉ. हरवीन कौर को अपनी मर्जी और पसंद के मुताबिक MLR दर्ज कराने के लिए प्रभावित करने के प्रयास में उनके साथ बदसलूकी की I जब डॉ.हरवीन कौर ने उनके निर्देशों का पालन करने से इनकार कर दिया और स्पष्ट रूप से कहा कि वह नियम के अनुसार काम करेगी, तो गुंडों ने राजन अंगुराल के साथ आये लोगों ने गुंडागर्दी की दरवाजे का शीशा तोड़ दिया और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। इस समबन्ध में सिविल अस्पताल प्रशासन की ओर से पुलिस में शिकायत की गई है। कालिया ने कहा कि एक माह पूर्व जालंधर पश्चिम से आप के विधायक शीतल अंगुराल ने जिला प्रशासनिक अधिकारियों के साथ उसी तरह दुर्व्यवहार किया जैसे रमन अरोड़ा ने किया। जब PCS अधिकारियों ने हड़ताल पर जाने की धमकी दी तो शीतल अंगुराल AAP विधायक ने अमित सरीन, ADC जालंधर से मांगी माफी ।मनोरंजन कालिया ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जिला जालंधर की मांग है कि शीतल अंगुराल के भाई राजन अंगुराल और उसके के साथ आये उन गुंडों के खिलाफ एक आपराधिक मामला दर्ज किया जाए, जो सिविल हस्पताल गए और डॉ. हरवीन कौर और मेडिकल स्टाफ के साथ दुर्व्यवहार किया और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। पुलिस कमिश्नर जालंधर को जालंधर में अवैध रूप से चल रही दड़ा सटा की दुकानों का संज्ञान लेना चाहिए, जिन्हें राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है, ऐसा न हो कि यह मान लिया जाएगा कि पुलिस ने राजनीतिक आकाओं के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। दड़ा सटा की दुकानें उन गरीब परिवारों का जीवन बरबाद कर रही हैं जिनके वित्तीय संसाधन कमाई करने वाले सदस्यों को इसकी लत के कारण खत्म हो रहे हैं। पूर्व संसदीय सचिव कृष्ण देव भंडारी ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि इन सभी घटनाओं से पुलिस प्रशासन के मान सम्मान और उनकी गरिमा को बहुत ठेस पहुंची है यह वही पुलिस प्रशासन है जिन्होंने अपनी जान की बाजी लगाकर पंजाब को आंतकवाद से मुक्त किया था भंडारी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी आम आदमी पार्टी के विधायक की पुलिस के आला अफसर के साथ इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा करती है इस घटना से पूरे पुलिस प्रशासन में भय का माहौल पैदा हो गया है आज पुलिस प्रशासन में छोटे से लेकर हर बड़े अफसर के मन में आज यह डर पैदा हो गया है कि आम आदमी पार्टी के नुमाइंदों की वजह से उनके साथ कहीं कोई बदसलूकी ना हो जाए कृष्णदेव भंडारी ने डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस गौरव यादव से मांग की है कि इस सारे घटनाक्रम की उचित जांच करवाकर दोषियों के खिलाफ बनती कार्रवाई कर पुलिस प्रशासन का मान मनोबल बढ़ाया जाए ताकि वह अपनी ड्यूटी कर प्रदेश की जनता की जान-माल की रक्षा में पूरी मुस्तैदी से कर सके

Trulli